janganmannews

फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर  धोखाधड़ी करने वाले को बिहार से किया गिरफ्तार

फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर धोखाधड़ी करने वाले को बिहार से किया गिरफ्तार

धमतरी  20-07-22

*सायबर फ्रॉड के आरोपी को रूद्री पुलिस द्वारा बिहार से किया गिरफ्तार*

*आरोपी द्वारा प्रार्थिया से फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर की गई थी धोखाधड़ी*

*आरोपी द्वारा बिलासपुर में रेल्वे विभाग में इंजीनियर होने का बनाया गया था फर्जी परिचय पत्र*

*पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले गंभीरता देखते हुए थाना प्रभारी रुद्री को दिए गए थे त्वरित कार्यवाही के निर्देश*

मोह०महफूज पिता स्व० तैयब उम्र 32 वर्ष निवासी फिरोज पैलेश फ्लैट नम्बर 102 समनपुरा राजाबाजार बिलाल मस्जिद के पास पटना बिहार के द्वारा वर्ष 2021 अप्रैल माह में रूद्री निवासी 30 वर्षीय युवती को धोखाधड़ी करने की नियत से फेसबुक के माध्यम से एक फर्जी एकाउंट स्वराज पैकरा के नाम से बनाया था उक्त फर्जी एकाउंट के माध्यम से पीड़िता को फैण्डशीप रिक्वेस्ट भेजकर पीड़िता से दोस्ती कर जान पहचान बढाना शुरू किया और फोन के माध्यम से भी बातचीत करना शुरू किया।
पीड़िता को बहला फुसलाकर शादी करने झांसा देने के लिये आरोपी मोह. महफूज के द्वारा अपना नाम स्वयं के आधार कार्ड में भी छेड़छाड़ कर स्वराज पैकरा लिखकर एवं स्वंय को बिलासपुर रेल्वे विभाग में इंजीनीयर बताकर रेल्वे विभाग का कर्मचारी परिचय पत्र भी फर्जी तरीके से बनाकर पीड़िता को दिखाता था।
आरोपी मोह० महफूज के द्वारा बेईमानीपूर्वक पीड़िता से पैसे प्राप्त करने के लिये कई बहाने करके पीड़िता से माह अप्रैल से सितंबर माह तक अलग अलग किश्तो में कुल 2,68,760/- रूपये ऑनलाईन के माध्यम से अपने एकाउंट में ट्रांसफर कर ठगी किया गया था।
आरोपी द्वारा वर्ष 2021 में 02 बार पीड़िता से मिलने के बहाने धमतरी निजी लॉज में आकर जबरदस्ती छेड़छाड़ भी किया गया था।
आरोपी के द्वारा लगातार पैसे की मांग करने और पीड़िता के पैसे वापस नहीं करने पर पीड़िता को शक हुआ और आरोपी फेसबुक धारक के विरूद्ध थाना सिविल लाईन रूद्री में आकर माह अप्रैल 2022 शिकायत दी।

उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर द्वारा त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिया गया।
जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं उप पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में
थाना प्रभारी सिविल लाईन रूद्री निरीक्षक विनय कुमार पम्मार के द्वारा मामले के त्वरित जांच प्रारंभ किया गया और शिकायत जांच पर से थाना रूद्री में अप्रैल माह में ही आरोपी फेसबुक धारक स्वराज पैकरा के विरूद्ध प्रारंभिक तौर पर धारा 420 , 354 भा.द.वि. के तहत एफआईआर० दर्ज कर विवेचना कार्यवाही प्रारंभ की गई थी। विवेचना के दौरान फर्जी आधार कार्ड होने की पुष्टि भारतीय विशिष्ठ पहचान प्राधिकरण से व फर्जी रेल्वे आई कार्ड की पुष्टि रेल्वे विभाग से की गई है। आरोपी के द्वारा प्रयुक्त फेसबुक एकाउंट , पेटीएम खाता , मोबाईल नम्बरो की जानकारी संबंधित सेवा प्रदाता कंपनियों से प्राप्त किया गया प्राप्त वांछित जानकारी के आधार पर संदेही का लोकेशन पटना बिहार का होना पता चला था ।
थाना सिविल लाईन रूद्री से थाना प्रभारी निरीक्षक विनय कुमार पम्मार के नेतृत्व में अन्य पुलिस स्टॉफ की टीम गठित कर दिनांक 12.07.2022 को आरोपी की पतासाजी हेतु पटना बिहार रवाना हुये थे ।
रूद्री पुलिस टीम के द्वारा विवेचना के दौरान उपलब्ध इलेक्टॉनिक साक्ष्यों के आधार पर संदेही तक पहुंचकर पटना में संदेही को दिनांक 17.07.2022 को हिरासत में लेकर कडाई से पूछताछ किया गया जो कि आरोपी के द्वारा अपना पूरा नाम पता मो . महफूज पिता स्व ० तैयब उम्र 32 वर्ष निवासी फिरोज पैलेश फ्लैट नम्बर 102 समनपुरा राजाबाजार बिलाल मस्जिद के पास पटना बिहार बताया ।
मौके पर ही आरोपी का मेमोरेण्डम कथन लेकर प्रकरण के घटना से संबंधित मोबाईल सेट सिम नम्बर , खाता पासबुक , फर्जी आधार कार्ड , फर्जी रेल्वे विभाग का परिचय पत्र को बरामद कर जप्त किया गया है साथ ही आरोपी द्वारा प्रयुक्त बंधन बैंक स्थित खाता को फीज कराया गया है ।
आरोपी की गिरफ्तार दिनांक 17.07.2022 को पटना में की गई ।
रूद्री पुलिस के द्वारा गिरफ्तार आरोपी का टांजिट रिमांड लेकर आज दिनांक 19.07.2022 को आरोपी मोह० महफूज को माननीय जेएमएफसी धमतरी न्यायालय के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमांड प्राप्त कर जेल दाखिल किया गया है ।
आरोपी मोह० महफूज के विरूद्ध थाना रूद्री में धारा 420 , 354 भा.द.वि. व 66 डी आईटी एक्ट के तहत विवेचना कार्यवाही की जा रही है।

आरोपी के फर्जी फेसबुक एकाउंट के आधार पर एवं अन्य गतिविधियों से यह तथ्य सामने आया है कि आरोपी के द्वारा ऐसी घटनाएं छत्तीसगढ़ की अन्य युवतियों के साथ घटित कर चुका या है या करने की तैयारी में है जिस संबंध में जांच कार्यवाही की जा रही है ।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी रुद्री निरीक्षक विनय कुमार पम्मार, आरक्षक योगेश साहू, पंकज प्रधान, राजेश साहू का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent News