janganmannews

सोसाइटी में लाइन लगे रहने के दौरान मृत्यु पर पिंकी शिवराज शाह ने कहा

सोसाइटी में लाइन लगे रहने के दौरान मृत्यु पर पिंकी शिवराज शाह ने कहा

नगरी 24/6/2022

राष्ट्रीय मंत्री भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा एवं पूर्व विधायक पिंकी शिवराज शाह ने बालोद जिला के परसोदा सोसाइटी के अंतर्गत सोहतरा गांव के किसान बंसी लाल साहू के सोसाइटी में लाइन लगे रहने के दौरान मृत्यु हो गई इस घटना को लेकर के कहा कि भूपेश बघेल की सरकार अपने आपको किसान हितैषी और किसान पुत्र की सरकार कहती है।लेकिन इस सरकार की कथनी और करनी में फर्क है भूपेश बघेल की सरकार से प्रदेश के पूरी किसान बुरी तरह से पीड़ित और परेशान हैं।यह सरकार हर मामले में विफल है।वर्तमान में किसानों को पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध नहीं करा पा रही है वहीं दूसरी ओर किसानों को 2500रू धान की कीमत देने की बात कही गई थी।लेकिन धान के डिफरेंस की राशि को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत चार किस्तों में घुमा घुमा कर भुगतान करती है जिससे बैंकों में भी किसानों की लंबी लाइन देखी जाती है।यह सरकार किस्त में जो राशि भुगतान करती है उसमें गांव के छोटे-छोटे किसान अपने राशि को निकालने के लिए कई दिनों तक लंबी लाइन में लगे रहते हैं। तब कहीं जाकर के किसानों को डिफरेंस की राशि मिल पाती है।भूपेश बघेल की सरकार खाद आपूर्ति नहीं कर पा रही है।वहीं दूसरी ओर उनके द्वारा केंद्र सरकार के ऊपर आक्षेप लगाए जाते हैं कि केंद्र सरकार से खाद की आपूर्ति नहीं की जा रही है लेकिन वहीं देखा जाता है कि व्यापारियों के गोदाम से पर्याप्त मात्रा में खाद की बिक्री ऊंचे दामों पर हो रही है जब खाद की आपूर्ति नहीं हो रही है तो व्यापारियों के गोदाम में खाद कहां से पहुंच रहा है इसका जवाब भूपेश बघेल की सरकार के पास नहीं है यह सरकार लगातार आम जनता और किसानों का ध्यान भटकाने का काम कर रही है हर मामले में केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को पत्र लिखने की बात कह कर के प्रदेश की जनता को ध्यान भटकाने का कार्य यह सरकार कर रही है।बालोद जिला के किसान की जो मृत्यु लंबी लाइन में लगने के कारण हुई है इसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए एवं संबंधित दोषी लोगों के ऊपर कठोर कार्यवाही की जानी चाहिए जब किसान सोसाइटी या बैंकों में भुगतान के लिए पहुंचते हैं तो वहां पर पर्याप्त मात्रा में पेयजल एवं छांव में बैठने की भी सुविधा यह सरकार उपलब्ध नहीं करा रही है और ऐसे ही कारणों से किसान बहुत परेशान हैं सरकार को पर्याप्त मात्रा में खाद बीज उपलब्ध करा कर के और 2500 रू धान का कीमत एकमुश्त भुगतान करके किसानों को राहत पहुंचाया जाना चाहिए।इस मामले को लेकर के भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के नेतृत्व में आंदोलन किया जावेगा।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent News