janganmannews

नौकरी लगाने के नाम पर छह बेरोजगार से सात लाख रुपए की ठगी करने वाले आरोपी को  पुलिस ने किया गिरफ्तार

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

नौकरी लगाने के नाम पर छह बेरोजगार से सात लाख रुपए की ठगी करने वाले आरोपी को  पुलिस ने किया गिरफ्तार

धमतरी -09-06-22

*नौकरी के नाम पर सात लाख रुपए की ठगी करने वाले आरोपी को कोतवाली पुलिस ने किया गिरफ्तार*

*पुलिस अधीक्षक धमतरी द्वारा सभी थाना प्रभारियों को अपराध में कमी किए जाने के लिए दिये गए हैं सख्त निर्देश*

धमतरी जिले में विभिन्न पदों पर नौकरी लगाने के नाम पर छह बेरोजगार युवाओं ने जिसमें डिवज कुमार साहू 23 वर्ष निवासी ग्राम जुनवानी ने रिपोर्ट दर्ज करवाया था कि चिंरजीव सिन्हा धमतरी ने जल संसाधन विभाग धमतरी, राजस्व शाखा कार्यालय धमतरी एवं रोजगार कार्यालय धमतरी में नौकरी लगाने के नाम पर उससे एक लाख रुपये ले लिए। उसके अलावा पारसमणी साहू निवासी बगदेही कुरूद से डेढ़ लाख युवराज यादव निवासी देवरी भखारा से एक लाख, तारा यादव निवासी डांडसेरा से एक लाख, दोवेश साहू निवासी गरियाबंद से डेढ़ लाख, चामेश यादव पोटियाडीह से एक लाख रुपये लेकर धोखाधड़ी कि टोटल उसने कुल सात लाख रुपये नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी किया गया है जिसके खिलाफ थाना सिटी कोतवाली धमतरी में शिकायत दर्ज करवाया था , जिसमें सिटी कोतवाली पुलिस द्वारा उक्त आरोपी के विरुद्ध दिनांक 25-02-22 धारा420 भादवि.के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया था।

पुलिस अधीक्षक धमतरी द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के निर्देश दिये गए।
जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धमतरी श्रीमती निवेदिता पॉल के मार्गदर्शन में एवं उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय धमतरी श्री जी.सी.पति के नेतृत्व में थाना प्रभारी धमतरी द्वारा उक्त मामले में जांच कर आरोपी कि पतासाजी कि जा रही थी ,लेकिन आरोपी फरार चल रहा था ।
लगातार उक्त आरोपी कि पतासाजी कि जा रही थी जिस पर आरोपी को धमतरी पुलिस ने 4 महीने बाद आरोपी चिरंजीव सिन्हा को आज दिनांक को विधीवत गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ के दौरान ये बात भी सामने आया की आरोपी चिरंजीव सिन्हा ने डिवज कुमार साहू को दो माह के अंदर सरकारी नौकरी ज्वाइन कराने का झांसा दिया था।
उसने दो माह बाद एक लेटर दिया और उसे नौकरी का ज्वाइनिंग लेटर बताया।
इसके बाद एक दिन राजस्व शाखा आफिस धमतरी में डिवज कुमार को ले गया और कुछ देर वहां बैठाकर रखा, आफिस से बाहर आकर बोला कि अधिकारी नहीं है। कुछ दिन बाद आना तब नौकरी ज्वाइन करवा दूंगा करके घुमाता रहा जब उनसे पैसे वापस मांगने लगे तो भी वह सभी छह बेरोजगारों को घूमाता रहा।

सिटी कोतवाली पुलिस ने *आरोपी* चिरंजीव सिन्हा पिता प्रेम नारायण सिन्हा उम्र 40 वर्ष साकीन जालमपुर धमतरी के खिलाफ धोखाधड़ी की मामला धारा 420 भादवि. पंजीबद्ध कर आगे की कार्यवाही किया जा रहा है।
उक्त कार्यवाही में उप निरीक्षक श्री सी.एल.साहू आरक्षक इंद्र कुमार ध्रुव आरक्षक रंजीत कुर्रे का विशेष योगदान रहा।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent News

Share on whatsapp