janganmannews

मितानिन संघ ने विधायक लक्ष्मी ध्रुव को मुख्यमंत्री के नाम सौपा ज्ञापन

मितानिन साघ द्वारा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

मितानिन संघ ने विधायक लक्ष्मी ध्रुव को मुख्यमंत्री के नाम सौपा ज्ञापन

नगरी

मितानिन संघ द्वारा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए

प्रदेश मितानिन संघ के आव्हान पर धमतरी जिला मितानिन संघ ने जिला अध्यक्ष अनीता ध्रुव के नेतृत्व में मितानिन उषा बाई ध्रुव, गंगा बाई साहू, धनेशवरी मानिकपुरी, दामनी बाई ध्रुव, अगाशा बाई ध्रुव, जमुना बाई ध्रुव, मानेशवरी मंड़ावी, अनुपमा बाई मंड़ावी, परमिला बाई राजपूत, लता बाई साहू, रेखा बाई साहू, उर्मिला बाई मानिकपुरी, मितानिन प्रशिक्षक आशो बाई ध्रुव,, चित्ररेखा बाई साहू, सोहद्रा बाई ध्रुव ने आज सिहावा विधानसभा क्षेत्र के विधायक डाॅं.लक्ष्मी ध्रुव तथा नगरी एस.डी.एम. चन्द्रकांत कौशिक और तहसीलदार राधाकृष्ण बंजारे कुकरेल को पांच-सुत्रीय मांग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपा गया॥ जिसमें मितानिन को दिये जाने वाले राज्य अंश 75 प्रतिशत राशि को बढ़ाकर 100 प्रतिशत राशि दिये जाने की मांग,, वर्ष 2018 में कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व व वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा चुनाव पूर्व अपने जन घोषणा पत्र में मितानिनों को प्रोत्साहन राशि के अतिरिक्त प्रति माह 5000 हजार रूपये मानदेय देने का वादा किया गया था जिसे पूर्ण कर वादा निभाने की मांग,, मितानिन को उनके निर्धारित कार्य जिसमें राशि मिलती है उसके अतिरिक्त अन्य समय काम करती है उसमें भी राशि दिया जावे तथा मितानिन,, मितानिन प्रशिक्षक,, ब्लाक समन्वयक,, स्वास्थ्य पंचायत समन्वयक,, एरियल कोआडिनेटर,, हेल्प डेस्क,, फेसिलेटर का मासिक भविष्यनिधि राशि जमा की जावे एवं मितानिन की मृत्यु हो जाती है या काम करने में असमर्थ हो तो नया चयन में मितानिन परिवार को प्राथमिकता दिया जावे और मितानिन,, मितानिन प्रशिक्षक,, ब्लॉक समन्वयक,, स्वास्थ्य पंचायत समन्वयक की शिकायत संबंधी जांच एवं निराकरण बी.एम.ओ. के द्वारा गाईड लाईन मितानिन संदर्शिका के अनुसार हो इसकी माँग ज्ञापन के माध्यम से किया गया है॥
मितानिन संघ के जिला अध्यक्ष अनीता ध्रुव ने कहाँ की विगत 18 वर्षों से हमारे मितानिन कार्यक्रम को सफल संचालन कर रहे हैं, जिसके कारण छत्तीसगढ़ प्रदेश मे स्वास्थ्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय परिणाम मिला है, माता मृत्यु, बाल्य मृत्यु में भारी कमी आई है, कुपोषण के स्तर में भी सुधार हुआ है॥ संस्थागत प्रसव में टिकाकरण में वृद्धि हुई है॥ स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं को गाँव-गाँव घर-घर जन-जन तक पहुंचाने एवं उसका लाभ दिलाने में मितानिन कार्यक्रम उल्लेखनीय योगदान रहा है॥ समाजिक मुद्दे जिसमें महिला हिंसा रोकने, अवैध शराब बिक्री बंद कराने,, बाल विवाह रोकने, पर्यावरण प्रदूषण बचाने आदि मुद्दे में लोगों को जागरूक किया जा रहा है॥ वर्तमान में कोरोना महामारी के खिलाफ हमारी मितानिन बहिनों ने जान जोखिम में डालकर लोगों को कोरोना से बचाने जांच, टिकाकरण में रात-दिन मदद कर रहे हैं एवं घर-घर जाकर संदिग्ध मरीजों की पहचान कर जांच कराने का कार्य आज भी चल रहा है॥ कोरोना महामारी के प्रारम्भ में जहाँ कोरोना के भय से अधिकांश विभाग के कर्मचारी घर से बाहर नही निकल रहे थे उस समय हमारे मितानिन कार्यक्रम के सभी लोग आगे आकर सेवा दे रहे थे॥ तथा मितानिन कार्यक्रम के द्वारा माता मृत्यु, बाल मृत्यु रोकने, गर्भवती के घर भ्रमणकर खानपान देखभाल व जांच संबंधी सलाह व संस्थागत प्रसव के लिए प्रेरित किया जाता है॥ इसी तरह मलेरिया,, दस्त,, टी.बी.,, कुष्ट,, सर्दी,, खांसी,, निमोनिया एवं सभी संक्रमण तथा गैर संक्रमण रोगों के बचाव व उपचार में मदद करना और स्वास्थ्य संबंधी सभी राष्ट्रीय कार्यक्रम जैसे पल्स पोलियो,, टिकाकरण,, फाइलेरिया,, दस्त पखवाड़ा में सहयोग के साथ-साथ समाजिक मुद्दों जिसमें अवैध शराब बिक्री बंद कराने,, बाल विवाह रोकने,, शौचालय निर्माण कराने व ग्राम स्वास्थ समिति के जरिये ग्राम पंचायतों को स्वस्थ बनाने में सहयोग के अलावा स्वास्थ्य विभाग और पंचायत द्वारा समय-समय पर दिये जाने वाले विभिन्न कार्य किये जाते हैं॥
पांच-सुत्रीय मांग के संबंध में मितानिन संघ के जिला अध्यक्ष अनीता ध्रुव का कहना है कि प्रदेश में कार्यरत करीब 80 हजार मितानिनों को एक कुशल स्वास्थ्य कार्यकर्ता बनाने में प्रदेश में कार्यरत 5000 हजार प्रशिक्षकों एवं 550 ब्लॉक समन्वयक व स्वास्थ्य पंचायत एवं एरिया समन्वयकों की अहम भूमिका होती है॥ इसके लिए मितानिन प्रशिक्षकों को 8 से 10 गाँवो में 10 से 15 किलोमीटर जाकर 25 से 30 मितानिन को सहयोग करना होता है, इसी तरह ब्लॉक व स्वस्थ पंचायत समन्वयक तथा एरिया कोआडिनेटर को प्रति दिन 50 से 100 किलोमीटर जाकर 100 से 150 गाँवो में जाकर सहयोग करते हैं इसके बाद भी इन्हें सही राशि नही दिया जाता ॥
अनीता ध्रुव ने मांग की है की वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के द्वारा अपने जन घोषणा पत्र में वायदा किया था कि प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने पर मितानिन टीम को प्रतिमाह उनको दिये जाने वाले राशि के अतिरिक्त प्रतिमाह पांच-पांच हजार रुपये मानदेय दिया जावेगा॥ लेकिन कांग्रेस पार्टी को शासन में आये लगभग तीन साल से भी ज्यादा समय हो गया है, किन्तु जन घोषणा पत्र को अभी तक अमल में नही लाया गया है॥ उन्होंने भूपेश बघेल कांग्रेस सरकार से निवेदन करते हुए कहा कि जन घोषणा पत्र के मुताबिक किया वायदा को मितानिन टीम को दिये जाने वाले राशि के अतिरिक्त प्रतिमाह पांच-पांच हजार रुपये मानदेय राशि दे और अपना वादा निभाये॥

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent News

Share on whatsapp